Divya Lipidom ke fayde Herbal Arcade
औषधी दर्शन

लिपिडोम (Lipidom):

लिपिडोम का परिचय (Introduction of Lipidom)

लिपिडोम क्या है?? (Lipidom kya hai?)

दिव्य फार्मेसी द्वारा निर्मित यह एक दिव्य औषधि हैं| लिपिडोम का मुख्य कार्य शरीर में उपस्थित अनावश्यक वसा, केलोस्ट्रोल को खत्म करना होता है|यह डिसलिपिडेमिया जैसे रोग को भी खत्म करने में सहायक है| शरीर में वसा और कोलेस्ट्रॉल अधिक वसा वाले भोजन का सेवन करने के कारण बढ़ जाते हैं| बढे हुए वसा और कोलेस्ट्रॉल शरीर में जम जाते हैं तथा इससे रक्त प्रवाह ठीक ढंग से नहीं हो पाता है| रक्त का प्रवाह ठीक ढंग से नहीं होने के कारण हार्ट अटैक सीने में दर्द जैसी और भी कई समस्याएं आती है|
यह औषधि इन समस्याओं को समाप्त करने में सहायक होती है | यदि रोगी द्वारा इसका सेवन नियमित रूप से किया जाए तो निश्चित ही उन्हें इन समस्याओं से छुटकारा मिल सकता हैं|

लिपिडोम औषधि के घटक द्रव्य (Lipidom ke gatak dravya)

  1. अर्जुन का सूखा अर्क
  2. लौकी का सूखा हुआ अर्क
  3. लहसुन का सूखा हुआ अर्क

लिपिडोम के फायदे (Lipidom ke fayde)

डिसलिपिडेमिया रोग में

शरीर में एक वसायुक्त पदार्थ होता है जो कोलेस्ट्रोल के रूप में शरीर में उपस्थित होता है|जब इसका स्तर असंतुलित हो जाता है तब यह रोग होता है|
यह रोग अक्सर मोटापे, अधिक धूम्रपान करने या शराब के कारण भी हो सकता है| यह रोग वंशानुगत भी होता हैं | डायबिटीज (टाइप 2) और गुर्दे की बीमारी वाले लोगों को भी इसका खतरा रहता है|
डिसलिपिडेमिया के कोई खास लक्षण नहीं होते हैं|परंतु बहुत ही अधिक गंभीर मामलों में शरीर पर पीले चकते या पीले उभार सकते हैं|
लिपिडोम इस रोग को खत्म करने में सहायता प्रदान करती है| इस औषधि के सेवन से इस रोग में लाभ पहुंचता है|

फैट कम करें

अधिक वसायुक्त पदार्थ का सेवन लगातार करने से शरीर में वसा की मात्रा बढ़ जाती है|जब इस वसा का पाचन नहीं हो पाता है तो यह शरीर में जम जाती है|इस प्रकार यह मोटापे का कारण बनती हैं |लिपिडोम औषधि की सहायता से शरीर में उपस्थित आवश्यकता से अधिक वसा को खत्म करने में सहायता मिलती है तथा इससे मोटापे को संतुलित किया जा सकता|और मोटापे से होने वाली बीमारियों से बचा जा सकता है|

मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करें

मेटाबोलिज्म व्यक्ति द्वारा खाए गए पदार्थ को एनर्जी में बदलने का कार्य करता है| मेटाबोलिज्म की मात्रा को लिपिडोम की सहायता से नियंत्रित किया जा सकता है| मेटाबोलिज्म के कम होने पर यह उसे बढ़ाने में सहायता प्रदान करता है|

खराब केलोस्ट्रोल को कम करें

कोलेस्ट्रोल की मात्रा शरीर में होना बहुत आवश्यक है| लीवर द्वारा और मनुष्य द्वारा खाए गए भोजन से कोलेस्ट्रॉल उत्पन्न होता है| शरीर में अच्छा कोलेस्ट्रोल और बुरा कोलेस्ट्रॉल दोनों ही प्रकार के कोलेस्ट्रोल होते हैं | अच्छा कोलेस्ट्रोल शरीर के लिए अच्छा होता है तथा इसकी मात्रा बढ़ जाने पर भी कोई दुष्प्रभाव नहीं होता | परंतु बुरा कोलेस्ट्रोल बढ़ जाने पर नसों के ब्लॉकेज होने से जुड़ी समस्याएं आती है| इस औषधि का सेवन करने से यह बुरे केलोस्ट्रोल को अच्छे कोलेस्ट्रॉल मैं बदलने की सहायता करती है|

लिपिडोम औषधि की सेवन विधि (Lipidom ki sevan vidhi)

  • दो गोली दिन में दो बार खाने के बाद लेनी चाहिए
  • गुनगुने जल के साथ गोलियों का सेवन करना चाहिए

औषधि का सेवन करते समय रखी जाने वाली सावधानियां (Lipidom ke sevan ki savdhaniya)

  • इस औषधि को अधिक मात्रा में ना लें
  • इसके सेवन से पहले चिकित्सक की सलाह जरूरी है
  • इसका सेवन गुनगुने जल के साथ ही करें

लिपिडोम औषधि की उपलब्धता (Lipidom ki uplabdhta)

दिव्य फार्मेसी लिपिडोम

Read more Articles

फाइटर: जाने कैसे होगी हमेशा के लिए कब्ज़ और एसिडिटी खत्म, इस औषधि के सेवन से

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *