swasari gold benefits
औषधी दर्शन

श्वासारि गोल्ड: फायदें, सेवन, घटक|SWASARI GOLD Benefits

श्वासारि गोल्ड का परिचय Introduction of SWASARI GOLD)

Table of Contents

श्वासारि गोल्ड क्या हैं?? What is Swasari gold??

श्वासारि गोल्ड / SWASARI GOLD एक दिव्य आयुर्वेदिक औषधि हैं |जो दिव्या फार्मेसी (पतंजलि) द्वारा बनायीं गयी हैं| यह औषधि मुख्य रूप से सांस की सारी बिमारियों को खत्म करने में काम में ली जाती हैं| स्वरभंग (गला बैठना), कंठशोथ (गले में सूजन), अस्थमा, हिक्का की बीमारी में यह काम में ली जाती हैं|क्ष्मा (टी.बी.), खांसी, कर्कटाबुर्द (केंसर), प्रतिश्याय जैसे रोगों में इस औषधि के उपयोग उत्तम माना जाता हैं|

इस औषधि (श्वासारि गोल्ड / SWASARI GOLD) का सेवन करने से जीर्ण (क्रोनिक) फेफड़ों में इन्फेक्शन, फयब्रोसिस, अधिक कफ को खत्म करने में भी लाभ मिलता हैं| यह औषधि कई गुणों वाले प्राकृतिक तत्वों को मिला कर बनायीं जाती हैं| औषधि का उचित मात्रा में सेवन करने और नियमित रूप से सेवन करने पर जल्द ही राहत का असर दिखना शुरू हो जाता हैं|

श्वासारि गोल्ड के घटक द्रव्य| Contents of Swasari gold

  • त्रिकटु चूर्ण
  • श्वसारी रस
  • सितोप्लादी चूर्ण
  • अभ्रक भस्म
  • स्वर्ण बसंत मालती
  • मुक्ता पिष्टी (मोती पिष्टी)
  • गोदन्ती भस्म
श्वासारि गोल्ड  के घटक द्रव्य | Herbal arcade
श्वासारि गोल्ड के घटक द्रव्य | Herbal arcade

क्या फायदें है श्वासारि गोल्ड के?? |What are the Benefits of Swasari gold??

अस्थमा में लाभदायक | Swasari gold in asthma

इस रोग को दमा के नाम से भी जाना जाता हैं| इस रोग में सांस नलियोंमें जलन, सिकुडन, सूजन और जल्दी सांस फूलने जैसी समस्या आती हैं| यह रोग श्वसन तंत्र में संक्रमण के कारण या आनुवांशिक भी हो सकता हैं| इसके कारण सांस की नलियों में बलगम बनना और सांस लेने में कठिनाई की समस्या आती हैं| यह रोग रोजमर्रा के कामो को करने में परेशानी पैदा करता हैं| इस रोग में श्वासारि गोल्ड का सेवन करने से लाभ मिलता हैं और रोगी को आराम पहुचता हैं|

राजयक्ष्मा या टी.बी. रोग में लाभदायक श्वासारि गोल्ड |Swasari gold in Tuberculosis

जब खांसी लम्बे समय तक चले और कई इलाज़ लेने के बाद भी इससे राहत ना मिले तो आपको यह रोग हो सकता हैं| इस रोग में लम्भी खांसी के बाद खांसी के साथ खून भी आने लगता हैं| इस बीमारी का सही समय पर इलाज ना कराये जाने पर यह जानलेवा भी हो सकती हैं| इस रोग से राहत पाने के लिए श्वासारि गोल्ड एक उत्तम औषधि हैं| यह हमारे शरीर में जा कर टी.बी. जैसे घातक रोग को खत्म करने की क्षमता रखती हैं|

पुरानी खांसी को दूर करें श्वासारि गोल्ड |Swasari gold for chronic cough

खांसी एक बहुत ही सामान्य समस्या होती हैं जो बच्चो से लगाकर बुजुर्गो में भी पाई जाती हैं| खांसी होने का मुख्य कारण वात, पित्त और कफ का असंतुलन होता हैं| ख़राब जीवनशैली, मौसम बदलने के कारण कफ का विकार हो जाता हैं जो खांसी का कारण बनता हैं|

खांसी होने पर गले में खराश के साथ साथ गले में दर्द भी हो सकता हैं| खांसी दो प्रकार की होती हैं सूखी खांसी और बलगम युक्त खांसी| सूखी खांसी बाहरी पदार्थो जैसे धूल या मिट्टी के कारण हो सकती हैं जबकि बलगम युक्त खांसी कफ विकार के कारण होती हैं| श्वासारि गोल्ड दोनों प्रकार की खांसी से राहत दिलाने के लिए रामबाण औषधि हैं|

श्वासारि गोल्ड फेफड़ों के संक्रमण में लाभदायक | Swasari gold in lungs infection

फेफड़े शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग होते हैं| दूषित वातावरण के कारण जब दूषित कण नाक व मुंह के साथ सांस नली और फेफड़ो तक को संक्रमित कर देते हैं| इस संक्रमण को खत्म करने और फेफड़ो को मजबूत बनाने के लिए श्वासारि गोल्ड का उपयोग करना चाहिए|

श्वासनिशोथ में लाभदायक | Swasari gold in Acute Bronchitis

इस रोग में उन नलियोंमें सूजन आ जाती हैं जो फेफड़ो तक सांस पहुंचाती हैं| यह रोग श्वसन तंत्र में संक्रमण के कारण होता हैं| इस रोग से निजात पाने के लिए श्वासारि गोल्ड का प्रयोग लाभदायक रहता हैं| यह औषधि श्वसन से जुडी सभी समस्याओं को हल करने में मददगार औषधि हैं|

श्वासारि गोल्ड  के फायदे | Herbal arcade
श्वासारि गोल्ड के फायदे | Herbal arcade

हिक्का में फायदेमंद | Swasari gold in Hiccup

बहुत अधिक हिचकी आना और पीड़ा के साथ हिचकी आना को ही हिक्का रोग कहा जाता हैं| इस रोग में वायु शरीर से बाहर निकलती हुई पसलियों और आँतों को बहुत तेज पीड़ा पहुचाती हैं और गले में से झटके से बाहर निकल जाती हैं| इस रोग में श्वासारि गोल्ड का सेवन लाभदायक रहता हैं|

कर्कटाबुर्द में मददगार | Swasari gold in Cancer

इसमें शरीर के किसी भी भाग की कोशिकाओं में अनियमित वृद्धि शुरू हो जाती हैं| शुरू में यह ट्यूमर ही रहती हैं| एक विशेष प्रक्रिया के बाद ही पता चल पता हैं की उस ट्यूमर में केंसर का संक्रमण हैं या नही| केंसर होने पर दी गयी आयुर्वेदिक चिकित्सा में भी वाही औषधियां दी जाती हैं जो श्वासारि गोल्ड में उपस्थित रहती हैं| इसी कारण श्वासारि गोल्ड औषधि फेफड़ो से जुड़े केंसर में फायदेमंद होती हैं|

प्रतिश्याय रोग में लाभदायक | Swasari gold in Catarrh

यह त्रिदोष के कारण हुई समस्या होती हैं| यह समस्या सफ़ेद, चिकनी एवम बहुत ही छोटे कृमि का हमारे शरीर में प्रवेश कर जाने के कारण होती हैं|इस रोग में सिर दर्द या जुखाम जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं| इस रोग श्वासारि गोल्ड का सेवन करने से रोगी को लाभ मिलता हैं|

स्वरभंग में उपयोगी | Swasari gold in Hoarseness of voice

किसी संक्रमण के कारण या मौसम के प्रतिकूल कोई चीज़ खा लेना या जोर जोर से अधिक देर तक चिल्लाना या बोलना स्वरभंग के कारण हो सकते हैं| इस स्थिति में व्यक्ति की आवाज़ निकलना भी मुश्किल हो जाता हैं| इसे हम सामान्य भाषा में गला बैठना भी कहते हैं| इस समस्या से राहत पाने के लिए इस दिव्य औषधि श्वासारि गोल्ड का प्रयोग करना चाहिए| इसके माध्यम से की इस समस्या से छुटकारा मिलता हैं|

कंठशोथ और जलन को दूर करें | Swasari gold in sore throat and irritation

किसी चोट के कारण, या किसी संक्रमण अथवा त्रिदोष के असंतुलन के कारण गले में आने वाली सूजन और गले की जलन को इस औषधि का सेवन करने से खत्म किया जा सकता हैं| श्वासारि गोल्ड औषधि शरीर के भीतर जा कर गले में हो रही सारी समस्याओं को जड़ से खत्म करने में सहायता करती हैं और व्यक्ति को आराम दिलाती हैं|

फयब्रोसिस में फायदेमंद | Swasari gold in Fibrosis

यह फेफड़ो और पाचन तंत्र को नुक्सान पहुँचाने वाला एक जानलेवा विकार होता हैं जो पीढ़ी से पीढ़ी में जाता हैं| यह रोग बलगम, पसीना और पाचक रस पैदा करने वाली कोशिकाओं पर प्रभाव डालते हैं इसके कारण ये द्रव गाढ़े हो जाते हैं और शरीर की नालियों को अवरुद्ध कर देते हैं जिससे कई सारी बीमारियाँ होना शुरू हो जाती हैं| श्वासारि गोल्ड का प्रयोग कर के इस रोग से राहत ली जा सकती हैं|

श्वसन तंत्र से जुडी बीमारियाँ होने के कुछ मुख्य कारण निम्न प्रकार से हो सकते हैं-

1) संक्रमण के कारण (infection)

अधिक धूल के सम्पर्क में आने या दूषित आहार का सेवन करने से हमारे शरीर में संक्रमण हो सकता हैं जो कई बार श्वसन तंत्र के कई हिस्सों पर प्रभाव डाल देता हैं जिसके कारण सांस से जुडी हुई समस्या आने लगती हैं|

2) आनुवांशिकता के कारण (Genetic)

कई बीमारियाँ ऐसी होती हैं जो पीढ़ी दर पीढ़ी एक चलती रहती हैं| इसका एक उदाहरण अस्थमा भी हो सकता हैं| कई बार इन बिमारियों के बढ़ जाने पर व्यक्ति को गंभीर समस्या का सामना करना पड़ता हैं|

3) शीतल वायु के कारण (Cool air)

अचानक मौसम में परिवर्तन होने या शीतल वायु के चपेट में आने के कारण भी जुखाम, खांसी, कफ का बढ़ना जैसी समस्या आ सकती हैं| इन छोटी छोटी परेशानियों का यदि समय पर सही इलाज़ ना कराया जाए तो बाद में गंभीर स्थिति बन सकती हैं|

4) धुम्रपान के कारण (smoking)

अधिक धुम्रपान का सेवन करना हमारे श्वसन तंत्र, फेफड़ो और किडनी के लिए घातक हो सकता हैं| कई बार धुम्रपान के कारण आई समस्याओं में व्यक्ति को अपनी जान तक गंवानी पड़ती हैं|

5) व्यवसाय के कारण (Business)

यदि आप व्यवसाय कपड़ों का, अखबार का या मिर्च मसाले का हैं तो आपको सांस से जुडी हुई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं| इसके अलावा भी यदि आप किसी अधिक धूल, मिट्टी जैसी जगह पर काम कर रहे हैं तो भी इन समस्याओं के होने का खतरा बना रहता हैं|

6) अनुपयुक्त औषधियों के सेवन से (Inappropriate drugs)

किसी भी छोटी सी शारीरिक समस्या को दूर करने के लिए व्यक्ति अनगिनत शरीर को नुकसान देने वाली गोलियों का सेवन करता हैं| इनके सेवन से व्यक्ति को कुछ देर के लिए तो आराम मिल जाता हैं लेकिन उससे दुगना दुष्प्रभाव हमारे शरीर पर पड़ता हैं| इस कारण कई रोग होने की सम्भावना बढ़ जाती हैं|

सेवन विधि | Doses of Swasari gold

• खाना खाने के बाद दिन में दो बार इसका सेवन करें|
• इसका सेवन गुनगुने पानी के साथ करना चाहिए|

कुछ सावधानियाँ श्वासारि गोल्ड लेते समय| precautions of Swasari gold

• औषधि का सेवन करने के दौरान घी, तेल, खटाई, ठंडी चीज़े, केला, दही, आइसक्रीम आदि का सेवन ना करें
• जहाँ तक हो सके, गरम पानी का ही सेवन करें|

श्वासारि गोल्ड की उपलब्धता availability of Swasari gold

दिव्य श्वासारि गोल्ड (पतंजलि)

श्वासारि गोल्ड का मूल्य Price of Swasari gold

60 TABS – 1200/-


Thanks: Canva for images

Other Articles

Divya Peedanil Gold

One thought on “श्वासारि गोल्ड: फायदें, सेवन, घटक|SWASARI GOLD Benefits

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *