PHYTER BENEFITS HERBAL ARCADE
औषधी दर्शन

फाइटर: फायदे, सेवन, घटक Phyter: Benefits, doses

फाइटर का परिचय Introduction of Phyter

फाइटर क्या है?? Phyter kya hai?

यह एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसे त्रिफला से बनाया जाता है|यह औषधि गोलियों के रूप में उपस्थित रहती है| इसका मुख्य प्रयोग कब्ज़, गैस्ट्रिक समस्याएं जैसे हाइपर एसिडिटी, खट्टी डकार, ऐनोरेक्सियाजैसी पाचन से जुड़ी हुई कई समस्याओं को समाप्त करती है| कब्ज़ से जुड़ी हुई समस्याएं खराब जीवनशैली या भोजन में आए किसी तरह के प्रतिकूल बदलाव के कारण होती है| इन सारी समस्याओं को समाप्त करने फाइटर औषधि सहायता करती है |

फाइटर औषधि के घटक द्रव्य Phyter ke ghatak dravya

  • हरड़
  • आंवला
  • बहेड़ा
PHYTER CONTENTS HERBAL ARCADE
PHYTER CONTENTS HERBAL ARCADE

फाइटर औषधि के फायदे Phyter ke fayde

फाइटर के फायदे herbal arcade
फाइटर के फायदे herbal arcade

कब्ज में for constipation

पेट में शुष्क मल का जमाव होना ही कब्ज कहलाता है | इस अवस्था में व्यक्ति मल का त्याग समय पर नहीं कर पाता है |इसके कारण व्यक्ति को पाचन तंत्र से जुड़ी समस्या और कभी-कभी पेट दर्द का सामना भी करना पड़ता है |कब्ज बवासीर होने का एक बहुत बड़ा कारण होता है| स्वस्थ व्यक्ति को दिन में एक बार मल त्याग करना चाहिए |कब्ज की समस्या होने पर मल त्याग समय पर नहीं हो पाता जिसके कारण व्यक्ति अस्वस्थ हो जाता है | फाइटर औषधि का प्रयोग करने से कब्ज की समस्या दूर करने में सहायता मिलती है |

हाइपर एसिडिटी को दूर करें for Hyperacidity

हाइपर एसिडिटी को पेट में गैस बनना या पेट में वायु बनना जैसे नामों से जाना जाता है |यह समस्या व्यक्ति में अधिक तीखा मसालेदार और भारी भोजन करने के कारण हो सकती है | जब व्यक्ति को बार-बार यह समस्या होती है और उसे किसी प्रकार से निजात नहीं मिल पाती है तो उसे फाइटर औषधि का प्रयोग करना चाहिए|यह औषधि पाचन से जुड़ी समस्याओं का समाधान करती है |

खट्टी डकार से राहत दे

जब डकार के साथ गले में एसिड आने लगता है तो इस स्थिति को एसिडिक बर्प या खट्टी डकार आना कहते हैं | ऐसी स्थिति में व्यक्ति के गले में तेज जलन होने लगती है |इस स्थिति से छुटकारा पाने के लिए इस औषधि का प्रयोग करना चाहिए |

एनोरेक्सिया बीमारी को खत्म करें for Anorexia

इसमें व्यक्ति वजन बढ़ने के डर से खुद को भूखा रखता है और उसके साथ ही खाना खाने पर उल्टी कर पूरा भोजन बाहर निकाल देता है | कभी कभी व्यक्ति को अकारण ही भूख नही लगती हैं | इस विकार से व्यक्ति की जान तक जा सकती है |एनोरेक्सिया को खत्म करने में फाइटर औषधि सहायता करती हैं|

फाइटर औषधि की सेवन विधि Phyter ki sevan vidhi

  • दिन में दो बार दो दो गोलियों का सेवन करें|
  • इन गोलियों को गुनगुने जल के साथ ले|

फाइटर औषधि का सेवन करते समय रखी जाने वाली सावधानियां Phyter ki savdhaniyan

  • इस औषधि का सेवन चिकित्सक की सलाह के अनुसार ही करना चाहिए |
  • औषधि को अधिक मात्रा में नहीं लेना चाहिए |
  • यदि आप पहले ही किसी बीमारी से ग्रसित है तो इसके सेवन से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर लें|

फाइटर औषधि की उपलब्धता Phyter ki uplabdhta

दिव्या फार्मेसी

Read more Articles

अभयारिष्ट

थायरोग्रिट

One thought on “फाइटर: फायदे, सेवन, घटक Phyter: Benefits, doses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *