Acidogrit ke fayde herbal arcade
औषधी दर्शन

एसिडोग्रिट: फायदे, सेवन, घटक Acidogrit: Benefits, doses

एसिडोग्रिट का परिचय Acidogrit ka parichay

एसिडोग्रिट क्या होता हैं? Acidogrit kya hai?

यह एसिडिटी के लिए एक बहुत ही बढ़िया आयुर्वेदिक औषधि हैं | यदि एसिडोग्रिट का सेवन उचित मात्रा में उचित समय पर किया जाता हैं| तो निश्चित रूप से किसी भी व्यक्ति को आराम मिल सकता हैं|
इसका निर्माण दिव्य फार्मेसी (पतंजलि) द्वारा किया गया हैं | एसिडिटी को गैस्ट्रिक प्रॉब्लम, पित्त बनना जैसे और भी कई नामो से जाना जाता हैं | आयुर्वेद में इसे अम्लपित्त कहा जाता हैं |

एसिडोग्रिट के घटक द्रव्य Acidogrit ke ghatak dravya

  • धनिया
  • आंवला
  • हरड
  • एलोवेरा
Acidogrit contents herbal arcade
Acidogrit contents herbal arcade

एसिडोग्रिट के फायदे Acidogrit ke fayde

एसिडोग्रिट के फायदे herbal arcade
  • एसिडिटी में
  • छाती में जलन में
  • खट्टी डकार में
  • एसिडिटी की गंभीरता में सहायक

तो चलिए इसके सेवन से पहले जान लेते हैं की एसिडिटी होती क्या हैं?

क्या हैं एसिडिटी? acidity kya hai?

यह पाचन से जुडी हुई एक समस्या हैं| आयुर्वेद के अनुसार एसिडिटी में पित्त बढ़ कर शरीर में अम्ल की मात्रा को बढाता हैं | इसलिए इसे अम्लपित्त कहा जाता हैं एसिडिटी के कारण पेट में जलन, सीने में जलन, बैचैनी, घबराहट, खट्टी डकारें आदि समस्याएँ हो सकती हैं |
यह अधिक दिनों तक रहने या गंभीर स्थिति में होने पर खून की उल्टियाँ, भोजन नली में घाव, पेट में संक्रमण जैसी समस्या आ सकती हैं इसलिए इसे नजरअंदाज नही करना चाहिए | यह होना एक आम बात हैं परन्तु जब यह अधिक होने लगे और इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाये तो गंभीर स्थिति बन सकती हैं |
इसके कारण यह पूरे शरीर को प्रभावित करती हैं | दूसरे शब्दों में कहे तो यह औषधि मुख्य रूप से एसिडिटी के लिए ही बनी हैं और इससे जुडी सारी समस्याओं का समाधान भी करती हैं|

एसिडिटी होने के निम्न कारण हो सकते हैं acidity ke karan

  • अधिक मसालेदार या तीखा भोजन करना
  • जंक फ़ूड का सेवन अधिक करना
  • भोजन करते ही सो जाना
  • लगातार अम्लीय भोजन का सेवन अधिक मात्रा में करना
  • अधिक शराब के कारण
  • धुम्रपान के कारण
  • आवश्यकता से अधिक दवाओं का सेवन
  • अधिक देर तक भूखे रहने के बाद अनुपयुक्त पदार्थो का सेवन
  • रासायनिक खेती से उत्पन्न रासायनिक फलो या सब्जियों का सेवन

एसिडोग्रिट की सेवन विधि Acidogrit ki sevan vidhi

  • दिन में दो बार दो दो गोलियों का सेवन गुनगुने जल के साथ करना चाहिए|

एसिडोग्रिट का सेवन करते समय रखी जाने वाली सावधानियाँ Acidogrit ke sevan ki savdhaniya

  • इसे सूरज की सीधी धूप से बचा कर रखें|
  • औषधि को नमी से दूर रखे|
  • किसी भी व्यक्ति को इसका सेवन करने से पहले चिकित्सक की सलाह जरुर लेनी चाहिए|

पथ्य और अपथ्य एसिडिटी में acidity me pathya or apthya

एसिडिटी के समय खाने योग्य पदार्थ एसिडिटी के दौरान परहेज किये जाने वाले खाद्य पदार्थ
अनाज – शाली चावल, गेहूं, जौ, फायबर युक्त पदार्थ दाल – मूंग की दाल फल और सब्जियां – लौकी, परवल, तुरई, कद्दू,  हरी सब्जियां, केला, पपीता, सेब आदिअनाज – नया धान, बेसन दाल – कुलथ, उड़द फल और सब्जियां – आलू, कंदमूल, बेंगन, खट्टे फल, तीखा भोजन, डिब्बाबंद पदार्थ, जंक फ़ूड, तैलीय खाना, अचार आदि|  

एसिडोग्रिट की उपलब्धता

Read more Articles

अभयारिष्ट

One thought on “एसिडोग्रिट: फायदे, सेवन, घटक Acidogrit: Benefits, doses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *