lakshadi guggul ke fayde herbal arcade
औषधी दर्शन

लाक्षादि गुग्गुल: फायदे, सेवन Lakshadi guggul: Benefits

लाक्षादि गुग्गुल का परिचय Lakshadi guggul ka parichay

लाक्षादि गुग्गुल क्या होती है? Lakshadi guggul kya hoti hai?

यह एक आयुर्वेदिक औषधि होती हैं जिसका मुख्य घटक लाख होता हैं | इसके अतिरिक्त लाक्षादि गुग्गुल में एक हडजोड़ नामक औषधि मिलायी जाती हैं | इस औषधि के नाम से ही प्रतीत होता हैं की यह हड्डियों को जोड़ने में सहायता करती हैं | इसके साथ मिलायी गयी और भी औषधियां हड्डियों के दर्द, सूजन, मोच, हड्डियों का मुलायम हो जाना, हड्डियों का टूट जाना जैसे हड्डियों से जुडी हुई सभी समस्याओं को समाप्त करती हैं |
यदि किसी भी व्यक्ति को हड्डी से जुडी किसी भी प्रकार की समस्या हो तो उसे इस औषधि का सेवन जरुर करना चाहिए| ऑस्टियोपोरोसिस, ऑस्टियो आर्थराइटिस जैसे रोग में भी यह लाभ दायक होती हैं | इस औषधि में अर्जुन के पेड़ की छाल होती हैं जो ह्रदय विकार को जड़ से समाप्त कर देती हैं |

लाक्षादि गुग्गुल के घटक Lakshadi guggul ke ghatak dravy

  • लाख
  • हडजोड
  • अर्जुन की छाल
  • असगंध
  • नागबलामूल की छाल
  • शुद्ध गुग्गुल
lakshadi guggul contents herbal arcade
lakshadi guggul contents herbal arcade

लाक्षादि गुग्गुल बनाने की विधि Lakshadi guggul banane ki vidhi

सारी औषधियों के चूर्ण के साथ गुग्गुल को उचित मात्रा में ले कर तब तक कूटे जब तक यह गोली बनाने लायक ना हो जाये | इसके बाद इसकी गोलियां बना कर सुखा लें |

लाक्षादि गुग्गुल के फायदे Lakshadi guggul ke fayde

ऑस्टियोपोरोसिस में for osteoporosis

यह हड्डियों से जुडी एक समस्या होती हैं जिसमे एक उम्र के बाद हड्डियों का घनत्व कम होने लगता हैं और हड्डियाँ मुलायम होने लगती हैं | हड्डियाँ मुलायम हो जाने के कारण थोड़े से खिंचाव से भी हड्डियों के टूटने की सम्भावना बढ़ जाती हैं या कभी कभी हड्डी टूट जाती हैं |
लाक्षादि गुग्गुल का प्रयोग इस रोग में करने पर यह हड्डियों का घनत्व बढाती हैं और उन्हें मजबूत बनाती हैं |

जोड़ो और हड्डियों के दर्द में bone and joint pain

जोड़ो और हड्डियों का दर्द व्यक्ति को कई कारणों से हो सकता हैं जैसे बढती उम्र के कारण, हड्डियों में लगी किसी गंभीर चोट के कारण, कैल्शियम की कमी से, हड्डियों के घिसने पर, हड्डियों के टूट जाने से आदि से | इन स्थितियों से निपटने के लिए एक उत्तम औषधि हैं | शरीर की किसी भी हड्डी का दर्द इस औषधि का सेवन करने पर समाप्त किया जा सकता हैं |

हड्डी फ्रेक्चर में

हड्डी टूटने के बाद होने वाले दर्द में तो यह औषधि कारगर हैं ही इसके अलावा यह औषधि टूटी हुई हड्डी को जोड़ने में भी मदगार होती हैं | इसके औषधीय गुण एक हड्डी से दूसरी हड्डी को जोड़ने में जल्द और अच्छी सहायता करते हैं |

ट्रोमा में for troma

ट्रोमा कई प्रकार के होते हैं | यह औषधि हड्डियों से जुड़े हुए ट्रोमा के लिए लाभदायक हैं | इसमें हड्डी का अपनी जगह से खिसकना, आकार में परिवर्तन या हड्डियों का टूटना शामिल हैं | इसका प्रयोग यदि हड्डियों से जुड़े ट्रोमा में किया जाये तो परिणाम बहुत जल्दी और अच्छे मिलते हैं |

मोच में

जब किन्ही जोड़ो के लिगामेंट अपनी क्षमता से अधिक खींच जाते हैं तो मोच आती हैं| यह समस्या अक्सर कलाई और एडी पर अधिक देखने को मिलती हैं | मोच आने वाले हिस्से में दर्द और सूजन भी आ जाती हैं| इस स्थिति में इस गुग्गुल का उपयोग उचित होता हैं |

ऑस्टियोआर्थराइटिस में for osteoarthritis

यह जोड़ो में जकड़न और दर्द पैदा करने वाला रोग हैं जो हड्डियों के बीच के मुलायम पदार्थ को खत्म करने लगता हैं | इसके कारण जोड़ो की हड्डियां आपस में टकराने लगती हैं | इस रोग के शुरुआत में यदि इस गुग्गुल का प्रयोग किया जाये तो इसमें आराम मिल सकता हैं |

लाक्षादि गुग्गुल के फायदे herbal arcade
लाक्षादि गुग्गुल के फायदे herbal arcade

लाक्षादि गुग्गुल के फायदे अन्य रोगों में Lakshadi guggul ke anya labh

  • सूजन में
  • ह्रदय विकार में
  • दर्द में

लाक्षादि गुग्गुल की सेवन विधि Lakshadi guggul ki sevan vidhi

• 2 से 4 गोली का सेवन सुबह शाम दूध जल या शहद के साथ करें |

लाक्षादि गुग्गुल का सेवन करते समय रखी जाने वाली सवधानियाँ Lakshadi guggul ke sevan ki savdhaniya

• जीर्ण रोगी को इस औषधि का सेवन करने से पहले किसी अच्छे चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए |
• औषधि का सेवन अधिक मात्रा में नही करना चाहिए |

लाक्षादि गुग्गुल की उपलब्धता Lakshadi guggul ki uplabdhta

READ MORE ARTICLES

सिंहनाद गुग्गुल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *