PROSTOGRIT KE FAYDE HERBAL ARCADE
औषधी दर्शन

प्रोस्टोग्रिट: पायें प्रोस्टेट ग्रंथि के हर विकार से छुटकारा, लेकिन कैसे जाने यहाँ

प्रोस्टोग्रिट का परिचय Prostogrit ka parichay: Benefits, doses

प्रोस्टोग्रिट क्या हैं? Prostogrit kya hai?

यह एक आयुर्वेदिक औषधि हैं जिसका निर्माण दिव्य औषधियों से दिव्य फार्मेसी द्वारा किया गया हैं | प्रोस्टोग्रिट औषधि पुरुषो में उपस्थित प्रोस्टेट ग्रंथि से जुड़े सभी प्रकार के विकारो को समाप्त करती हैं | प्रोस्टेट ग्रंथि से जुडी यह समस्याएँ व्यक्ति में अधिकतर 50 की आयु के बाद आती हैं|
यह समस्या आने पर पेशाब करने में कठिनाई, दर्द या पेशाब करने के बाद भी मूत्राशय भरा भरा महसूस होना जैसी और भी कई समस्याएं आती हैं | इस औषधि का उपयोग कर के प्रोस्टेट ग्रंथि से जुडी समस्याओं को समाप्त किया जा सकता हैं |

प्रोस्टोग्रिट औषधि के घटक द्रव्य Prostogrit ke ghatak

prostogrit contents herbal arcade
prostogrit contents herbal arcade

प्रोस्टोग्रिट के फायदे Prostogrit ke fayde

प्रोस्टेट ग्रंथि के विकार को समाप्त करे for prostate gland disorder

यह औषधि प्रोस्टेट ग्रंथि के सभी प्रकार के विकारो को खत्म करने की रामबाण औषधि हैं | यह ग्रंथि केवल पुरुषो में ही मूत्राशय के पास उपस्थित होती हैं | यह ग्रंथि प्रजनन में भी सहायक होती हैं | एक उम्र के बाद जब पुरुषो में उपस्थित हार्मोन में जब कमी आने लगती हैं तभी से यह विकार शुरू हो जाता हैं | इस विकार में पुरुष या प्रोस्टेट ग्रंथि का आकार बढ़ने लगता हैं जिसके लक्षण निम्न हो सकते हैं –

  • नींद के समय बार बार पेशाब आना
  • मूत्र त्याग शुरू करने में दिक्कत
  • मूत्रधारा का कमजोर होना
  • यूरिन त्याग के बाद भी बूंद बूंद टपकना
  • मूत्र पर नियंत्रण न होना
  • मूत्र पथ में संक्रमण आदि

प्रोस्टोग्रिट के सेवन का प्रकार Prostogrit ka sevan

  • दिन में दो बार दो दो गोलियों का सेवन करना चाहिए |
  • इसका सेवन गुनगुने जल के साथ किया जाना चाहिए |

प्रोस्टोग्रिट का सेवन करते समय रखी जाने वाली सावधानियाँ Prostogrit ke sevan ki savdhaniyan

  • इसका प्रयोग बिना चिकित्सक के परामर्श के ना करें |
  • इसको नमी से दूर, अच्छी तरह से बंद करके तथा धूप के सम्पर्क में ना रखे |

प्रोस्टोग्रिट औषधि की उपलबधता Prostogrit ki uplabdhta

  • दिव्य फार्मेसी प्रोस्टोग्रिट

प्रोस्टेट ग्रंथि की समस्या पर आहार विहार prostate ki samsya me aahar vihar

खाने हेतु योग्य पदार्थना खाने हेतु योग्य पदार्थ
मिश्री, छाछ, पेठा, लौकी, तुरई, परवल, पपीता, संतरा, आंवला, एलोवेरा, दाख, खरबूजा, गाय का दूध, गुनगुना जलगर्म मसाला, मिर्च, तेल, मिठाई, वासा युक्त पदार्थ, पुदी, परांठे, आलू, चावल, सरसों, लहसुन, हलवा, कचोरी, समोसा, पिज़्ज़ा, बर्गर, चाय, कॉफ़ी, कोल्ड ड्रिंक्स, नमक, अदरक, तिल, उड़द, राजमा, चना, मसूर की दाल, नॉनवेज, ब्रेड, कफ सिरप
  • इन रोगियों को ठण्ड से बचाव करना चाहिए |
  • मूत्र को एकत्र ना होने दे, समय समय पर मूत्र का त्याग करना चाहिए |
YOGA  FOR PROSTATE GLAND HERBAL ARCADE
YOGA FOR PROSTATE GLAND HERBAL ARCADE